Fashion design

उत्तर प्रदेश की चिकनकारी (Chikankari of Uttar Pradesh in Hindi)

chikankari of Uttar Pradesh

 चिकनकारी (Chikankari) तहज़ीब और नज़ाकत के जमीन लखनऊ से, चिकनकारी एक नाजुक और जटिल कढ़ाई शैली है। जिसे माना जाता है की मुगल बादशाह जहाँगीर की पत्नी नूरजहाँ द्वारा लाया गया था। चीकन, का शाब्दिक अर्थ ‘कढ़ाई’ (Embroidery) है। ये पारंपरिक कढ़ाई शैली लखनऊ की सबसे प्राचीन और मुगलों द्वारा शुरू की जाने वाली बेहतरीन… Read More

पंजाब की फुलकारी: Phulkari of Punjab in Hindi

पंजाब की फुलकारी: Phulkari of Punjab in Hindi

फुलकारी क्या होता है फुलकारी कढाई (एम्ब्रायडरी) की शुरुआत पंजाब में 15th सेंचुरी में हुआ था। फुलकारी एक तरह की कढाई होती है जो चुनरी /दुपटो और जूतियों पर हाथों से की जाती है।  फुलकारी शब्द “फूल” और “कारी” से बना है जिसका मतलब “फूलों की कलाकारी” होता है। पुराने समय मे फुलकारी और बाग… Read More

Warp and Weft- (ताने और बाने) कपड़े में कैसे पहचानें, गुण और प्रकार

(ताने और बाने) कपड़े में कैसे पहचानें, गुण और प्रकार

Warp and Weft (ताने और बाने) ताने और बाने, कपड़े में इस्तेमाल होने वाले सूत (yarn) के नाम हैं। बुने हुए कपड़े दो प्रकार के यार्न से बने होते हैं। वो हैं ताने और बाने फैब्रिक एज (edge) के समानांतर लाइनों (parallel lines) को ताना यार्न (warp yarn) कहा जाता है। कपड़े के किनारों के… Read More

Flax fiber-इतिहास, कटाई, गुण, उपयोग

Flax fiber-इतिहास, कटाई, गुण, उपयोग

Flax Fiber Flax फाइबर सबसे मजबूत प्राकृतिक सेल्यूलोज फाइबर है। यह सबसे पुराने तंतुओं में से एक है, जिसका उपयोग 30,000 वर्षों से भी  अधिक किया गया था। यह पौधों से प्राप्त फाइबर है। इतिहास सन (flax) शायद पहला बस्ट (bast) फाइबर था जिसका उपयोग मानव द्वारा कपड़ा बनाने के लिए किया गया था। इसे… Read More